नेपाल में ‘लॉक डाउन’ का व्यापक असर,कन्टेनर में छुप कर बीरगंज पहुँचे 53 नेपाली धराये।

0
266

न्यूज़ desk:-बीरगंज- विश्व महामारी बने कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए नेपाल सरकार ने लॉक डाउन लागू कर दिया है।बॉर्डर को भी सील कर दिया है।इसका नेपाल में  व्यापक असर है।लोग घरों से नही निकल रहे।सेना, पुलिस,एपीएफ एलर्ट है।इसी बीच,नेपाल में खाड़ी देश से आये एक व्यक्ति की जांच में कोरोना पॉजिटिव होने की खबर आई।इस तरह नेपाल में तीन पॉजिटिव केश मिले।इससे हड़कंम्प रहा।नेपाल के पर राष्ट्र मंत्री प्रदीप ग्यवाली ने कहा कि नेपाल में 31 मार्च की लॉक डाउन की अवधि को दो सप्ताह तक बढ़ाया जा सकता है।

इस बीच,नागरिक घर पहुँचने या जरूरी काम के लिए जुगत लगाने से बाज नही आ रहे।इसी क्रम में बीरगंज पुलिस ने चितवन व हेतौड़ा से छुप कर बीरगंज घन्टा घर पहुँचे 53 लोगों को हिरासत में लिया।ड्राइवर को को भी पकड़ लिया गया है।पकड़े गए लोगो की स्वास्थ्य जांच की गई।और उल्लंघन के आरोप में आवश्यक कारवाई शुरू कर दी गई है।बीरगंज की एसपी गंगा थापा ने बताया है कि कन्टेनर में छुपे हुये 53 व्यक्तियों में से 50 व्यक्ति पर्सा जिला का ही है और 2 व्यक्ति बारा व रौतहट जिला के हैं


बता दे कि कोरोना वाइरस नियन्त्रण के लिये सम्पूर्ण नेपाल में मंगलवार यानी 24 मार्च से लॉक डाउन लागू है।  जिससे बीरगंज कल से ही सुनसान बना हुआ है । फिर भी कुछ लोग इस नियम का उल्लंघन कर ही देते हैं ।
पुलिस के अनुसार कल मंगलवार बीरगंज में लॉक डाउन का उल्लंघन करने वाले 1 सौ मोटर साइकल और 3 सौ व्यक्तियों को प्रहरी नियन्त्रण में लेकर 500 का जुर्माना लेकर रिहा किया है ।सरकार द्वारा लगाये लॉक डाउन में अति आवश्यक स्वास्थ्य, खाद्य पदार्थ, सुरक्षा,, दूध, विद्युत, दुरसन्चार, भन्सार, कचरा व्यवस्थापन इत्यादि ही खोलने की अनुमति दी गई है।परन्तु वीरगन्ज महानगरपालिका में कुछ स्थानों में लकडाउन का उलंग्घन भी हुआ।  जिससे नेपाली सेना भी इसके कडाई में बुधवार से निगरानी रख रही है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here