भाजपा आईटी सेल पर ममता बनर्जी ने झूठ फैलाने का लगाया आरोप..

0
114

कोरोना वायरस के बढ़ते खतरों के बीच ही भाजपा और तृणमूल कांग्रेस में ठन गई है. पहले राहत के नाम पर भाजपा ने बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा था. बंगाल में कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी खुद सड़कों पर उतरी हुईं हैं. लोगों को जागरूक करने के लिए वे हर स्तर पर काम कर रहीं हैं. इससे भाजपा की परेशानी बढ़ी है. भाजपा नेताओं ने ममता बनर्जी सरकार पर राहत में भेदभाव का आरोप भी लगाया था और कहा था कि सरकार लोगों को राहत बांटने में लगे भाजपा नेताओं को परेशान कर रही है. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने पत्राकारों से कहा था कि भाजपा नेताओं को लॉकडाउन के बहाने सड़कों पर निकल कर लोगो को राहत देने की इजाजत सरकार नहीं दे रही है. अब ममता बनर्जी ने भाजपा और उसके आईटी सेल पर झूठ और पाखंड फैलाने का आरोप लगाया है.

पत्रकारों से बात करते हुए ममता बनर्जी ने भाजपा के आईटी सेल पर निशाना साधा और कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ हम पूरी ताकत के साथ लड़ाई लड़ रहे हैं. लेकिन राज्य के स्वास्थ्य विभाग के खिलाफ कथित तौर पर फर्जी खबरें फैलाई जा रहीं हैं. मुख्यमंत्री ने संकट की इस घड़ी में ओछी राजनीति से भाजपा को बचने की सलाह दी. भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने ट्वीट कर बंगाल सरकार पर कोरोना वायरस से संबंधित आंकड़ों को छुपाने का आरोप लगाया था. इसके बाद ही बनर्जी का बयान आया है.


हालांकि मुख्यमंत्री ने भाजपा या मालवीय का नाम नहीं लिया. बनर्जी ने कोविड-19 से निपटने के तहत नीति निर्माण संस्था वैश्विक सलाहकार बोर्ड के गठन की भी घोषणा की. यह संस्था बंगाल में इस महामारी के खात्मे के लिए नीति तैयार करने में राज्य सरकार की मदद करेगी. नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी बोर्ड के सदस्य होंगे. ममता ने कहा एक पार्टी का आईटी सेल बंगाल के स्वास्थ्य विभाग को बदनाम करने के लिए फर्जी खबरों को इस्तेमाल कर रहा है. हमारे डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मी बीमारी से निपटने के लिए बेहतर काम कर रहे हैं. यह ओछी राजनीति का समय नहीं है. हमने संकट से निपटने को लेकर केंद्र सरकार की कमियों पर कभी ध्यान नहीं दिया.’

उन्होंने कहा कि वे बर्तन बजाकर और पटाखे फोड़कर राजनीति करने के इच्छुक होंगे, लेकिन हम नहीं हैं. बंगाल में फिलहाल कोविड-19 के 61 मामले दर्ज किए गए हैं. सोमवार शाम को स्वास्थ्य मंत्रालय ने आंकड़े जारी किए जिनके अनुसार कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 4281 पर पहुंच गई है. अब तक इस खतरनाक वायरस की वजह से 111 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके अलावा 319 लोग इस वायरस के संक्रमण से ठीक हो चुके हैं. कोरोनावायरस के बढ़ते मामले को देखते हुए देश में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन जारी है जो 14 अप्रैल तक चलेगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here