समस्तीपुर: ग्लोबल वार्मिंग की समस्या पूरे विश्व और मानव समुदाय के लिए बहुत बड़ी चुनौती बन चुकी है।इसके बढ़ते प्रभावों से पूरे विश्व को अलग अलग तरह की भयंकर आपदाओं का सामना करना पड़ रहा है। विश्व के सभी देश और बड़ी संस्थाओं के द्वारा ग्लोबल वार्मिंग की इस समस्या से निपटने के लिए अनेक प्रयास किये जा रहे हैं और इसी कड़ी में “सेल्फी विद ट्री” अभियान के प्रणेता जो कि लोगों में पौधा वाले गुरुजी,ट्रीमैन आदि नामों से मशहूर पर्यावरणविद राजेश कुमार सुमन को पर्यावरण संरक्षण व संवर्धन क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए बिहार सरकार के द्वारा सम्मानित किया गया। श्री राजेश जी को यह सम्मान बिहार सरकार के वन,पर्यावरण व जलवायु मंत्रालय के द्वारा पटना के संजय गांधी जैविक उद्यान के तत्वावधान में आयोजित कार्यक्रम में उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार के द्वारा प्रदान किया गया।

इस कार्यक्रम में राजेश कुमार सुमन के अलावा सीतामढ़ी जिलाधिकारी डॉ. रंजीत कुमार सिंह और कैमूर के जिलाधिकारी नवल चौधरी को भी सम्मानित किया गया। ‘पौधा वाले गुरुजी’के नाम से मशहूर राजेश कुमार सुमन समस्तीपुर जिला के रोसड़ा प्रखंड अन्तर्गत धरहा गांव के किसान राम चरित्र महतो के सुपुत्र हैं तथा उन्होनें बिना किसी सरकारी मदद के पर्यावरण की रक्षा के प्रति जो मिसाल कायम किया,वो निःसंदेह पूरे समाज के लिए प्रेरणा का काम करेगी।सुमन जी के अनुसार उनके दिन की शुरुआत सुबह में पौधरोपण करने से होती है।

हालांकि सुमन जी ने बताया कि जब वह छठी कक्षा में थे तब से ही उनका लगाव पर्यावरण सुरक्षा और पौधरोपण के प्रति रहा है,लेक़िन सघन पौधरोपण का अभियान वे पिछले चार वर्षों से कर रहे हैं।इसके अलावा राजेश जी अपने द्वारा संचालित बीएसएस क्लब के माध्यम से पिछले दस वर्षों से बेटियों, दिव्यांगों तथा आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों को फ्री शिक्षा प्रदान कर रहे हैं और इसके बदले वे छात्रों से गुरु दक्षिणा के रूप में पौधरोपण करवाते हैं। पिछले दस वर्षों में उनके छात्र लाखों पौधे का रोपण कर चुके हैं।राजेश जी एक और विशेषता यह है कि वे लोगों को जागरूक करने के लिए पौधरोपण को धार्मिक कार्य,रस्मों, अनुष्ठान आदि से जोड़ देते हैं।वे जहां कहीं शादी समारोह, जन्म दिन ,जनेऊ,मुंडन आदि कार्यक्रमों में जाते हैं,वहां गिफ्ट के बदले इको फ्रेंडली गिफ्ट के रूप में पौधा भेंट करते हैं।इतना ही नही,राजेश जी अपने कमाई का 60 प्रतिशत हिस्सा पौधरोपण के कार्य में लगा देते हैं तथा समय समय पर लोगों में पर्यावरण के प्रति जागरूकता लाने के उद्देश्य से अपने छात्रों के साथ रैली एवं संगोष्ठी का आयोजन करते हैं। पर्यावरण संरक्षण के प्रति कार्यों के लिए श्री राजेश जी को जिला एवं राज्य स्तर के कई बड़े अधिकारियों के द्वारा पुरस्कृत किया जा चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here